अंतरराष्ट्रीय परिवार दिवस 2021 : कैसे हुई इसकी शुरुआत, जानिए परिवार का महत्व

4 weeks ago 26

नई दिल्ली। हर साल 15 मई को अंतरराष्ट्रीय परिवार दिवस (International Day of Families 2021) मनाया जाता है। इंसान कितनी भी तरक्की कर ले, जितनी भी सफलता हासिल कर ले, लेकिन परिवार के बिना वह अधूरा है। पहले लोग सामूहिक परिवार में ही है। फिर धीरे-धीरे काम की तलाश में, तो कोई नौकरी के लिए अपनों से दूर होते गए। लेकिन परिवार के बिना इंसान आज बिल्कुल अधूरा है। फिलहाल पूरी दुनिया जिस दौर से गुजर रही है ऐसे में परिवार की अहमियत और भी बढ़ जाती है। अंतरराष्ट्रीय परिवार दिवस के मौके पर आज आपको परिवार का महत्व, नए संकल्प और इसके प्रति जागरुकता के बारे में बताने जा रहे है।

यह भी पढ़ें :— देश के प्रमुख देवी मंदिर: जानें इन मंदिरों के पहाड़ों या ऊंचे स्थान पर ही होने का रहस्य

अंतरराष्ट्रीय परिवार दिवस की शुरुआत
संयुक्त राष्ट्र जनरल एसेंबली ने 9 दिसंबर, 1989 के 44/82 के प्रस्ताव में हर साल परिवार दिवस मनाए जाने की घोषणा की थी। इसके बाद साल 1993 में महासभा ने एक संकल्प (ए / आरईएस / 47/237) में हर साल 15 मई को मनाने का फैसला किया गया। संयुक्त राष्ट्र का उद्देश्य दुनिया भर में परिवारों के बेहतर जीवन स्तर और सामाजिक प्रगति के लिए लोगों को प्रोत्साहित करना है। यह दिन आर्थिक और सामाजिक संरचनाओं को संशोधित करने पर केंद्रित है जो दुनिया के विभिन्न हिस्सों में पारिवारिक इकाइयों की स्थिरता और संरचना को प्रभावित करते हैं।

यह भी पढ़ें :— देश का पहला मामला: शेर भी कोरोना की चपेट में, हैदराबाद के चिड़ियाघर में 8 एशियाई शेर पॉजिटिव

अंतर्राष्ट्रीय परिवार दिवस का महत्व
हर व्यक्तित के जीवन में उसके परिवार का काफी महत्व होता है। वो एक परिवार ही तो है जो हमेशा हमारे दुख-सुख में हमारे साथ खड़ा रहता है। कोरोनावायरस महामारी ने अचानक लोगों के जीवन की दिनचर्या पर ठहराव बटन दबाया है। लॉकडाउन ने परिवारों को घर पर रहने के लिए मजबूर किया। महामारी कोरोना वायरस ने परिवार के लोगों को एक-दूसरे की अहमियत से परिचित कराया है। कोरोना में एक-दूसरे को खोने के डर ने छोटे से लेकर बड़े परिवारों तक को एक कर दिया है। परिवार हमें सुरक्षित महसूस कराता है, यह हमें जीवन में किसी के होने का एहसास दिलाता है। यह दिन एक दूसरे के प्रति सम्मान और जिम्मेदारी का भी एहसास दिलाता है। अंतर्राष्ट्रीय परिवार दिवस या विश्व परिवार दिवस इसलिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि COVID-19 महामारी के समय में परीवार के साथ मिलकर इस मुश्किल हालातों से लड़ना है और सबके साथ मिलकर आगे भी बढ़ना है।


अंतरराष्ट्रीय परिवार दिवस की थीम
विश्व परवार दिवस हर साल एक खास थीम के साथ मनाया जाता है। कोरोना वायरस महामारी को देखते हुए संयुक्त राष्ट्र ने अंतर्राष्ट्रीय परिवार दिवस 2021 की थीम 'परिवार' और 'नई प्रौद्योगिकियां' रखी गई है। अंतरराष्ट्रीय परिवार दिवस 2020 का थीम 'विकास में परिवार: कोपेनहैगन और बीजिंग + 25 (Families in Development: Copenhagen & Beijing + 25)' था। अंतरराष्ट्रीय परिवार दिवस 2019 का थीम 'फैमलीस एंड क्लाइमेट एक्शनः फोकस आन एस.डी.जी 13' था।अंतरराष्ट्रीय परिवार दिवस 2018 का थीम 'परिवार और समावेशी समाज' था। अंतरराष्ट्रीय परिवार दिवस 2017 का थीम 'परिवार, शिक्षा और कल्याण' था। अंतरराष्ट्रीय परिवार दिवस 2016 का थीम 'परिवार, स्वस्थ जीवन और टिकाऊ भविष्य' था। अंतरराष्ट्रीय परिवार दिवस 2015 का थीम 'प्रभारी पुरुष? समकालीन परिवारों में 'लिंग' समानता और बच्चों के अधिकार' था।



source https://www.patrika.com/miscellenous-india/international-family-day-2021-know-the-importance-of-family-6845916/
Read Entire Article